30 December 2009

पर्सनेलिटी मायने रखती है

नए साल पर आप चाहते हैं कि आप सब जगह छा जाएं, तो गौर करें पर्सनेलिटी से जुड़ी इन बातों पर।

1. बॉडी लैंग्वेज- पर्सनेलिटी निखारना चाहते हैं, तो सबसे जरूरी है बॉडी लैंग्वेज पर ध्यान देना। अगर आप किसी के सामने हाथ बांधकर बैठें, तो यह आपकी असहमति दर्शाता है। पैरों को एक के ऊपर एक रखने से भी बचें। बातचीत करते समय सामने वाले व्यक्ति से आई कॉन्टेक्ट रखें। चेहरे के हावभाव और हाथों की मुद्राओं का भी ध्यान रखें।

2. ड्रेसिंग सेंस- परिधान पर्सनेलिटी का अहम हिस्सा होते हैं। मौके के हिसाब से कपड़े पहनें। शादी और पार्टी में तड़क-भड़क वाले कपड़े पहन सकते हैं, पर ऑफिस में फॉर्मल ड्रेस ही पहनें। कपड़े चाहे ब्रॉन्डेड न हों, पर साफ-सुथरे और प्रेस किए होने चाहिए। पैंट इतनी लंबी जरूर हो कि मोजे नजर न आएं। शर्ट के ऊपर के बटन खोलकर रखना भी आपकी गलत छवि पेश करता है।

3. वे ऑफ टॉकिंग- अपनी बातचीत में किसी को नीचा दिखाने से बचें। इसकी बजाय लोगों की छोटी-छोटी बातों पर तारीफ करना सीखें। बोलने के बेहतर तरीके में सबसे जरूरी है ध्यान से औरों की बातें सुनना। किसी की बात को बीच में न काटें। इससे आपकी पर्सनेलिटी का गलत असर पड़ता है। शब्दों का सही उच्चारण करें और तकियाकलाम से बचें।

4. हेयर स्टाइल- हेयर स्टाइल आपकी पर्सनेलिटी को उभार सकती है। बालों की सही देखरेख करें। जल्दी-जल्दी बालों की लुकिंग चेंज न करें। बालों की किसी अच्छे तेल से नियमित मालिश जरूर करें। ड्रेंडफ और बाल टूटने की समस्या पर समय रहते ध्यान जरूर दें। लोगों के सामने बालों में ज्यादा हाथ न फेरें।

5. शूज- किसी इंसान की पर्सनेलिटी का पता सबसे पहले शूज से ही चलता है। अगर आपने शूज पॉलिश नहीं किए हैं, तो इससे गलत इम्प्रेशन जाता है। स्पोर्टी शूज और लैदर शूज को भी जगह के हिसाब से ही पहनना चाहिए। गल्र्स हर तरह के शूज ट्राई करती हैं, पर अपने शरीर और जरूरत के मुताबिक ही शूज चुुनने चाहिए।

6. एटीट्यूड- आपका नजरिया हमेशा पॉजिटिव होना चाहिए। इससे लोगों के सामने अपनी अच्छी छवि बनेगी। लोग आपसे मुलाकात का मौका तलाशेंगे। पर ध्यान रखें, कभी भी अपने एटीट्यूड को लोगों पर थोपने की कोशिश न करें। एटीट्यूड में लोगों की मदद, सही मौका तलाशना और लक्ष्य पर नजर रखना भी शामिल होता है।

7. वॉलेट या पर्स- आपका पर्स आपकी जरूरत के मुताबिक होना चाहिए। ज्यादा महंगा या दिखावटी पर्स अपनी जेब में न रखें। पर्स ऐसा होना चाहिए, जिसमें नकदी के अलावा छोटे-मोटे सामान रखने की जगह मौजूद हो।

8. गॉगल्स- आजकल गॉगल्स फैशन में हैं। पर आपको हमेशा अपने चेहरे के आकार के हिसाब से ही गॉगल्स खरीदने चाहिए। ये आपकी पर्सनेलिटी को उभारते हैं। अगर आपकी आंखों में कुछ खराबी है, तो फैशनेबल चश्मों से बचना चाहिए। सनग्लासेज और नंबर ग्लासेज को अपनी जरूरत के हिसाब से पहनना चाहिए।

9. एक्सेसरीज- आप किस तरह की एक्सेसरीज इस्तेमाल करते हैं, इससे भी आपकी पर्सनेलिटी का पता लगता है। मोबाइल फोन सस्ता हो सकता है, पर अपनी पसंद के फीचर्स के साथ आप सहज हैं, तो ये भी आपकी पर्सनेलिटी को चमका सकता है। इसी तरह आपकी कलाई पर चमकती सुंदर घड़ी भी दूसरों पर आपका प्रभाव डालेगी।

10. टाइम सेविंग- अगर आप काम के समय पर गप्प हांकते हैं, तो लोगों पर आपकी पर्सनेलिटी का गलत इम्प्रैशन पड़ता है। काम के समय और मस्ती के समय मस्ती, यही आपका जीवनमंत्र होना चाहिए। टाइम के मुताबिक चलने से लोग आपकी कद्र करेंगे।

इससे जुड़ीं अन्य प्रविष्ठियां भी पढ़ें


5 comments:

  1. बहुत अच्छी सलाहें.

    यह अत्यंत हर्ष का विषय है कि आप हिंदी में सार्थक लेखन कर रहे हैं।

    हिन्दी के प्रसार एवं प्रचार में आपका योगदान सराहनीय है.

    मेरी शुभकामनाएँ आपके साथ हैं.

    नववर्ष में संकल्प लें कि आप नए लोगों को जोड़ेंगे एवं पुरानों को प्रोत्साहित करेंगे - यही हिंदी की सच्ची सेवा है।

    निवेदन है कि नए लोगों को जोड़ें एवं पुरानों को प्रोत्साहित करें - यही हिंदी की सच्ची सेवा है।

    वर्ष २०१० मे हर माह एक नया हिंदी चिट्ठा किसी नए व्यक्ति से भी शुरू करवाएँ और हिंदी चिट्ठों की संख्या बढ़ाने और विविधता प्रदान करने में योगदान करें।

    आपका साधुवाद!!

    नववर्ष की बहुत बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ!

    समीर लाल
    उड़न तश्तरी

    ReplyDelete
  2. its so nice aapne achhi baaten likhi hai sukriya

    ReplyDelete
  3. goood very nice

    ReplyDelete